Categories Breaking NewsChhattisgarhRAIGARHखरसिया

राष्ट्रीय अजजा आयोग करेगा कुनकुनी जमीन घोटाले की जांच – 700 एकड़ आदिवासी जमीन का हुआ है घोटाला

राष्ट्रीय आयोग करेगा कुनकुनी जमीन घोटाले की जांच

 

chhattisgarh news live. in

 

रायपुर. राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग का चार सदस्यीय दल रायगढ़ जिले में हुए कुनकुनी आदिवासी जमीन घोटाले की जांच करेगा। आयोग का जांच दल 21 जून को छत्तीसगढ़ पहुंच रहा है। इस दल में आयोग के सदस्य हर्षद भाई चुन्नीलाल बसावा, आयोग के निदेशक केडी बंसोर, पुलिस अधीक्षक रायगढ़ आयोग के मानद सलाहकार सत्यदेव शर्मा होंगे।

जांच दल 22 जून को कुनकुनी, छोटे डूमरपाली और बड़े डूमरपाली गांवों के प्रभावितों से मुलाकात कर उनकी शिकायत और बयान दर्ज करेगा। बाद में टीम स्थल निरीक्षण करने भी जाएगी। 23 जून को रायगढ़ जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक और राजस्व अधिकारियों के साथ बैठक में इस विवाद से जुड़े मसलों और कार्यवाहियों पर बात होगी। अफसरों का पक्ष भी दर्ज किया जाएगा। इसके बाद जिले में स्थापित उद्योगों के अफसरों की एक बैठक भी आयोग लेगा। आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साय ने कुनकुनी विवाद की जांच कराने का फैसला किया था।

विदित हो कि उक्त जमीन घोटाले के याचिका कर्ता जयलाल राठिया की सन्दिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। कुनकुनी पटवारी हल्का में कुनकुनी सहित रजघट्टा,छोटे डूमरपाली में भी रेल लाईन एवं कोल वाशरी में भी आदिवशियों की जमीन कपट पूर्वक बेनामी क्रय किया गया है। उक्त मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग ग्राम अंजोरिपाली की पूर्व महिला सरपंच श्रीमती तुला बाई राठिया द्वारा अजजा आयोग के अध्यक्ष नंदकुमार साय से किया था । जिसे श्री साय ने गम्भीरता पूर्वक लेते हुए उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया है। पूर्व में गठित जिला स्तरीय जांच समिति द्वारा पक्षपात करते हुए 700 एकड़ के घोटाले में मात्र 300 एकड़ का प्रतिवेदन बनाया था। जिसकी विस्तृत जांच का आदेश आयोग द्वारा दिया गया है। उक्त जमीन घोटाले में भाजपा के एक मंत्री परिवार के सदस्यों का भी नाम चर्चा में आया है। चूंकि मामला हाई प्रोफाइल है इसलिए स्थानीय अधिकारियों के द्वारा जांच एवं कार्यवाही  में अनावश्यक विलम्ब किया जा रहा था। उक्त मामले में उच्च स्तरीय जांच की मांग पत्रकार एवं सामाजिक कार्यकर्ता भूपेन्द्र वैष्णव,आरती वैष्णव,आदिवासी नेता हेमसिंह राठिया,गांधीवादी नेता गोपाल सिंह जूदेव, तुलाबाई राठिया,मनीराम राठिया,आनद कुमार राठिया,मयाराम राठिया ने नंदकुमार साय को उनके  रायगढ़ प्रवास के दौरान 7 किया  था। जल्द उक्त फर्जीवाड़ा में कई रशुखदारों के नाम का खुलासा होगा।

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *