Categories Breaking NewsBUSSINESSIndia

व्यापारी खुश, एक्सपर्ट बोले- दिवाली में अब लौटेगी रौनक

वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने की जीएसटी पर राहतों की घोषणा वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने की जीएसटी पर राहतों की घोषणा

नई दिल्‍ली, 06 अक्टूबर 2017,

केंद्र सरकार द्वारा जीएसटी पर दिए गए राहतों को लेकर व्यापारियों की मिली-जुली प्रतिक्रिया आ रही है. कुछ व्यापार संगठनों का कहना है कि रिटर्न दाखिल करने में समय मिलने से कुछ राहत मिलेगी, लेकिन बड़ी समस्या ज्यों की त्यों है. हालांकि, जीएसटी एक्सपर्ट का कहना है कि केंद्र की इस घोषणा से बाजारों में दिवाली की रौनक आएगी.

आरआरएस के आनुषांगिक संगठन लघु उद्योग भारती के अध्‍यक्ष प्रकाश मित्तल ने कहा कि सरकार ने छोटे व्यापारियों को जीएसटी में टैक्स की छूट को 75 लाख से बढ़ा कर एक करोड़ कर दिया है. इसके लिए उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वित्‍त मंत्री अरुण जेटली और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को इस बात के लिए बधाई दी कि उन्होंने लघु उद्योग के व्यापारियों की मांग को मान लिया है. इससे छोटे व्यापारियों को बड़ा फ़ायदा होगा.

उन्‍होंने कहा, ‘हमें ख़ुशी है की सरकार ने टैक्स में छूट की सीमा को 75 लाख से बढ़ा कर एक करोड़ कर दिया हैं, लेकिन अभी भी हमारी है इसको जितनी छूट पहले मिलती थी 1.5 करोड़ किया जाए. सरकार ने इसके लिए भी एक कमिटी नियुक्‍त कर दी है, जो पंद्रह दिनों में अपनी रिपोर्ट देगी.’

जयपुर के व्‍यापारी भी खुश

दुर्गापूजा खत्म हो गई और दिवाली आनेवाली है मगर बाजारों की रौनक गायब देखकर व्यापारियों को मोदी सरकार से बड़ी राहत की उम्मीद थी. वित्त मंत्री द्वारा एक्सपोर्टरों को दी गई रियायत पर व्यपारी खुश नजर तो आए, लेकिन कई लोगों ने आंशका जाहिर कि 10 अक्टूबर तक फंसा रिटर्न का पैसा शायद ही वापस व्यापारियों मिल पाएगा. दरअसल करोड़ों की पूंजी रिटर्न में अटकने से व्यपारी परेशान हैं.

राजस्थान सर्राफा कमेटी के अध्यक्ष सुभाष गुप्ता ने कहा कि सराफा व्यापारियों को मनी लांड्रिंग एक्ट से बाहर कर बड़ी राहत दी है. साथ ही दो लाख की खरीद पर पैन कार्ड से मुक्ति देने से आने वाले शादियों के सीजन और धनतेरस-दिवाली को लोग सोना खरीदेंगे.

राजस्थान के कोटा स्टोन पर जीएसटी 18 फीसदी करने से कोटा के स्टोन के व्यवसायी खुश हैं, तो देश के सबसे बड़े राजस्थान की मार्बल और ग्रेनाईट मंडी के लोग जीएसटी कम नही करने से निराश है. हालांकि इनका कहना है कि जीएसटी के नाम पर जो पैसा ब्‍लॉक हो जा रहा था, वो अगर समय पर मिलने लगेगा तो व्यापार में तेजी आएगी.

 कम्‍पोजिशन स्कीम से राहत पर नाखुशी

राजस्थान स्टील चैंबर्स के अध्यक्ष सीताराम अग्रवाल का कहना है कि जीएसटी की परेशानी पूरी तरह से खत्‍म नहीं हुई है. राहत कम्‍पोजिशन स्कीम के तहत मिली है जो कि व्यपारियों के लिए मुफीद नहीं है. बाजार बैठा हुआ है और बाजार को खड़ा करने के लिए कोई राहत नही दिख रही है.

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *