Categories ChhattisgarhJara Hat ke

27 कलेक्टरों में 7 फेल, 10 औसत, सिर्फ 10 ही अच्छे

रायपुर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सोमवार को कलेक्टरों के कामों की समीक्षा की तो राज्य के 27 जिलों में से 7 कलेक्टर फेल पाए गए। 10 कलेक्टरों का काम औसत रहा। सिर्फ 10 कलेक्टरों का काम ही बेहतर पाया गया। कलेक्टर्स कांफ्रेंस में कई कलेक्टरों के कामकाज से सीएम इस कदर नाराज हुए कि उन्होंने यहां तक कह डाला कि कलेक्टर तो बेसिक एडमिनिस्ट्रेशन भी नहीं दे पा रहे हैं। यह उनको हर हाल में करना चाहिए।
 
 लिहाजा सीएम ने वहां पर नान परफार्मर कलेक्टरों के नाम तो नहीं लिए लेकिन इतना जरूर कहा कि आप लोग फोन से मुझे पूछ लीजिएगा। बाद में उन्होंने कलेक्टरों को तल्ख शब्दों में समझाइश दी। साथ ही समय सीमा में काम करने की चुनौती भी दी। सीएम ने अधिकारियों को 300 दिन की समय-सीमा में योजना के अनुरूप काम करने को कहा। इस तरह काम करें जैसे टारगेट के लिए 10 ओवर ही बचे हों।
 (रन फॉर यूनिटी) और 3 नवंबर को एक दिवसीय जिला स्तरीय राज्योत्सव आयोजित करने के भी निर्देश दिए। डॉ. रमन सिंह ने स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा करते हुए कहा – ओडीएफ ग्राम पंचायतों का भौतिक सत्यापन मार्च 2018 तक पूरा होना चाहिए।
डॉ. सिंह ने प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में धमतरी जिले की उपलब्धियों को सबसे अच्छा बताया। वहीं उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन में कोरिया, कांकेर, गरियाबंद और बस्तर जिलों के कलेक्टरों को और भी अधिक मेहनत करने की सलाह दी।
नॉन परफॉर्मर रात में सीएम हाउस तलब
नॉन परफार्मेंस वाले कोरिया कलेक्टर नरेंद्र दुग्गा, बस्तर कलेक्टर धनंजय देवांगन, कोंडागांव कलेक्टर नीलकंठ टेकाम, कांकेर कलेक्टर टामन सिंह सोनवानी, बीजापुर कलेक्टर अयाज तंबोली, सुकमा कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य और अंबिकापुर की कलेक्टर किरण कौशल को रात में सीएम आवास तलब किया गया। सभी से चर्चा डिनर से पहले हुई।
ऐसे तय हुआ कौन है परफॉर्मर कौन नॉन-परफॉर्मर
पीएम आवास योजना की समीक्षा में कोरिया, कांकेर, बस्तर जिले का परफार्मेंस कमजोर बताया गया। योजना की रिपोर्ट के आधार पर कलेक्टरों को व्यक्तिगत रूप से इन योजनाओं की मॉनिटरिंग करने को कहा गया। इस योजना में धमतरी का प्रदर्शन सबसे बेहतर रहा।
 नरेगा योजना में कोंडागांव और सरगुजा का परफॉर्मेंस सीएम को संतुष्ट नहीं कर सका। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी निर्माण कार्य में कोंडागांव, सरगुजा काफी पीछे हैं। सीएम ने कुआं और डबरी बनाने में भी तेजी लाने की जरूरत बताई। सीएम ने मजदूरी भुगतान समय पर करने के निर्देश दिए।

About the author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *