Categories Breaking Newsविश्व

पब्लिक से प्राइवेट शेयरिंग प्लेटफॉर्म बनेगा फेसबुक

पब्लिक से प्राइवेट शेयरिंग प्लेटफॉर्म बनेगा फेसबुक
यूजरों की निजता सुनिश्चित करने के लिए किया जाएगा यह बदलाव।
वाशिंगटन। सोशल मीडिया का नाम सुनते ही हमारे जहन में एक ऐसा प्लेटफॉर्म आता है जहां हम अपनी बातों को पूरे विश्व के साथ साझा कर सकते हैं। हम जो भी पोस्ट अपडेट करते हैं या फोटो या वीडियो अपलोड करते हैं वह उन लोगों तक भी पहुंचती हैं जिन्हें हम शायद निजी तौर पर नहीं जानते हों।

सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक अब इसमें बड़ा बदलाव करने जा रहा है। कंपनी के सीईओ मार्क जुकरबर्ग का है कि वह लोगों को पब्लिक ब्रॉडकास्टिंग की जगह प्राइवेट कनवरसेशन की तरफ मुड़ने के लिए प्रोत्साहित करेंगे। ऐसा होने पर वाट्सएप की तरह फेसबुक पर भी आपके पोस्ट व मैसेज आदि बहुत ही सीमित लोगों तक पहुंचेगे।

फेसबुक पर लग रहे निजता हनन और डाटा चोरी के आरोपों के बीच जुकरबर्ग का कहना है कि इस बदलाव से यूजर की निजता सुनिश्चित होगी। हालांकि, यह योजना सोशल मीडिया की पूरी प्रकृति बदलने जैसी है। फेसबुक को डिजिटल लिविंग रूम बनाने की बात करते हुए जुकरबर्ग ने कहा, ‘नए बदलाव के तहत यूजर ऐसे ही लोगों के साथ अपने पोस्ट साझा करेंगे जिन्हें वह अच्छी तरह जानते हैं।’

चीन के ‘वी चैट’ से होगी प्रतिद्वंदिता

चीनी एप ‘वी चैट’ पहले ही प्राइवेट शेयरिंग सोशल नेटवर्क की तरह काम करता है। 2011 में बनाए गए इस एप से लोग एक-दूसरे को मैसेज के साथ वीडियो और ऑडियो कॉल भी कर सकते हैं। इस प्लेटफॉर्म पर किसी ग्रुप में 500 लोगों को जोड़ा जा सकता है। फेसबुक से उलट वी चैट के यूजर को उनके न्यूज फीड में लगातार विज्ञापन नहीं दिखते।

बग के कारण हैकर आपकी चैट का लगा रहे थे पता

फेसबुक में आए एक बग की वजह से हैकर्स यूजर की अन्य जानकारियों के साथ यह भी पता लगा रहे थे कि वह किससे चैट कर रहे हैं। साइबर सिक्योरिटी कंपनी इंपर्वा के एक शोधकर्ता ने इसकी जानकारी दी है। फिलहाल फेसबुक ने इस बग को दूर कर लिया है।