संत शिरोमणि रविदास जयंती समारोह में निकाला गया विशालजन शोभा यात्रा।

0 minutes, 1 second Read

सोनू कुमार चौधरी

*संत शिरोमणि रविदास जयंती समारोह में निकाला गया विशालजन शोभा यात्रा*।

सूरजपुर-शनिवार को संत शिरोमणि रविदास जयंती बड़े ही धूमधाम से मनाया गया यह कार्यक्रम रविदास समाज कल्याण समिति सरगुजा संभाग के संभागीय अध्यक्ष आनंद चौधरी के निर्देशानुसार हुवा और शोभा यात्रा सलका ग्राम से होते हुए चन्द्रपुर पाटपहरी में सन्त शिरोमणी रविदास मंदिर प्रांगण में एकत्रित होकर संत शिरोमणी रविदास जी की प्रतिमा में पूजा अर्चना किया गया,
उपस्थित समाज के बुद्धजीवी व युवाशक्ति संगठन के पधारिकारियो ने उपस्थित ग्रामीणों व समाज के जन समुदाय को सम्बोधित करते हुए बताया कि संत गुरु रविदास एक महान कवि, दार्शनिक और समाज सुधारक थे. संत रविदास का जन्म उत्तर प्रदेश के वाराणसी क्षेत्र में माघ पूर्णिमा को 1377 में हुआ था. इसलिए हर साल माघ पूर्णिमा के दिन रविदास जयंती मनाई जाती है. लेकिन इनके जन्म को लेकर विद्वानों के बीच अलग-अलग मत हैं. इनकी माता का नाम कर्मा देवी और पिताजी का नाम संतोष दास था. संत रविदास का जन्म एक महार परिवार में हुआ था,
रविदास जी बचपन से बहादुर और अपने कार्य के प्रति सजग रहे थे. शारदानंद गुरु से इन्होंने शिक्षा प्राप्त की. जैसे-जैसे रविदास जी की उम्र बढ़ने लगी भक्ति व कार्य के प्रति लगन इनकी रुचि भी बढ़ गई. वे अपना काम ईमानदारी, परिश्रम और पूरे लगन से करते थे . साथ ही लोगों को धर्म के मार्ग पर चलने की शिक्षा भी दिया करते थे.इन्होंने समाज मे ढोंग ,आडम्बर, उच्च नीच, छुवाछुत, अस्पृश्यता, व समाज मे सभी मानव एक है सभी बराबर है, व सभी मनखे एक समान है तथा मन चंगा तो कठौती में गंगा का संदेश दिए है,
इसके पश्चात अंतिम में सभी को भंडारा व प्रसाद वितरण किया गया , इस कार्यक्रम के मुख्य अथिति रविदास समाज कल्याण समिति सरगुजा सम्भाग के संभागीय अध्यक्ष आनंद चौधरी रहे विशिष्ट अतिथि – समाज के जिलाध्यक्ष रमेश चौधरी,व संभागीय सचिव समय लाल पाटिल , सुखदेव चौधरी ,भोला कुमार रवि,सामाजिक कार्यकर्ता सीताराम भास्कर, पाठ पहरी मन्दिर पूजा समिति के अध्यक्ष प्रेम कनेडिया, युवा शक्ति संगठन के सम्भागीय अध्यक्ष चरन कुमार चौधरी उपाध्यक्ष परमेश्वर बघेल संरक्षक जीत राम कोषाध्यक्ष बाबूलाल चौधरी,महासचिव जनक चौधरी, मीडिया प्रभारी सोनू कुमार चौधरी,भोले प्रसाद, हृदय लाल, राजेन्द्र,काशीराम,अमृत,मनी राम,सोनू कुमार, मुकेश्वर कनेडिया,आनंद राम पाटले, राम कुमार सैनी,सजान, दिनेश्वर अनंत,देव कुमार सैनी,रामनाथ रवि,मनोज पाटले, रामेश्वर प्रसाद ,रामसेवक,रवि शंकर, रामगुलाम, कामता प्रसाद,सीताराम कनेडिया,शिवलाल,धनीराम कनेडिया, नागेश्वर,कुंजलाल,बच्चा लाल,इंद्रदेव,कामेश्वर चौधरी, मुनई राम पाटले, मनोज कुमार सोनहले, खगेश्वर चौधरी, राजाराम,लालमन,भागेरती,व महिला प्रमुख शांति चौधरी, बसंती चौधरी, बाबी चौधरी, मनमेत बाई, मनबशिया,मोहरमनिया, संत कुँवर,दिलेश्वरी अनंत ,रामकेलि,बसंती ,गीता ,सोनीया, कमला बाई, उर्मिला देवी,अनिता,नन्दनी,नैंशि,निर्मला ,नेहा ,पूर्णिमा चौधरी, सरिता मानमती अनंत,शुषमा,चंदा, बिन्दुवती,पिंकी,हीरामनि, कविता,कावेरी चौधरी, लोचनी व भारी संख्या में महिलाओ और बच्चे सामिल रहे ।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *