अखिल भारतीय कोल कप फुटबाल प्रतियोगिता के फाइनल में सिवान बिहार टीम ने जमाया कब्जा*

0 minutes, 0 seconds Read

सोनू कुमार चौधरी

*अखिल भारतीय कोल कप फुटबाल प्रतियोगिता के फाइनल में सिवान बिहार टीम ने जमाया कब्जा*

*खेल मैदान के निर्माण कार्य के लिए पांच लाख रु की राशि देने की घोषणा मंच के माध्यम से महिला एवं बाल विकास मंत्री द्वारा की गई*

*सुरजपुर/जरही:–* अखिल भारतीय कोल कप फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन नगर पंचायत जरही के खेल परिसर में किया गया जिसका समापन समारोह छत्तीसगढ़ के महिला एवं बाल विकास मंत्री लक्ष्मी राजवाड़े की उपस्थिति में संपन्न हुआ। इस दौरान पूर्व सांसद कमलभान सिंह, रामसेवक पैकरा और सत्यनारायण सिंह विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे।

नगर पंचायत जरही के खेल परिसर में आयोजित अखिल भारतीय कोल कप का फाइनल मुकाबला खेला गया। फाइनल मुकाबला लक्ष्मीपुर बनाम सिवान बिहार के मध्य खेला गया जो रोमांच से भरा रहा और अंततः दोनों ही टीमों ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए एक एक गोल के बराबरी पर रहे और ट्राई ब्रेकर में सिवान बिहार की टीम ने चार गोल कर अखिल भारतीय कोल कप फुटबॉल प्रतियोगिता अपने नाम किया।

नगर पंचायत जरही के खेल परिसर में खेले गए अखिल भारतीय कोल कप फुटबाल प्रतियोगिता के समापन समारोह में उपस्थित मुख्य अतिथि लक्ष्मी राजवाड़े ने उदबोधन में कहा कि जरही खेल परिसर में फुटबॉल मैच का आयोजन किया जा रहा है जो क्षेत्र के लिए गर्व की बात है खेल से हमारे क्षेत्र नाम रोशन होगा वही हो रहा खेल से शारीरिक छमता बढ़ती है यह बहुत ही हर्ष की बात है की खेल प्रेमियों द्वारा यह आयोजन कराया जा रहा है जो कि क्षेत्र के लिए गर्व का विषय है जो कि शारीरिक स्वास्थ्य व जिससे शरीर का विकास भी अच्छे से होता है खेल को बढ़ावा देना बहुत जरूरी है जिससे क्षेत्र का नाम और विकास होता है।

विशिष्ट अतिथि रामसेवक पैकरा ने कहा की हमारे शारीरिक विकास के लिए खेल बहुत आवश्यक है, साथ ही साथ आज खेल के माध्यम से भी आप अपना कैरियर बना सकते हैं अपना भविष्य उज्जवल कर सकते हैं खेल को खेल की भावना से खेलें, खेल एक ऐसा माध्यम है जिससे आपसी एकता का परिचय दिखाने का मौका मिलता है। पहले के समय में बड़े बुजुर्ग कहते थे खेलोगे कूदोगे बनोगे खराब पढ़ोगे लिखोगे बनोगे नवाब लेकिन आज यह कथन गलत साबित हो रहा है और खिलाड़ी खेल के माध्यम से भी अपना कैरियर बना रहे है आप सभी को शुभकामनाएं खेल को खेल की भावना से खेलें जिसके लिए आप सभी खिलाड़ियों और आयोजन समिति को शुभकामनाएं।

अखिल भारतीय कोल कप फुटबाल प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में मुख्य निर्णायक के भूमिका में श्याम पैकरा और सहयोगी के रूप में रवि यादव, लोकेश्वर राजवाड़े, सितप रजक रहे।

लंबे अंतराल बाद आयोजित हो रहे अखिल भारतीय कोल कप टूर्नामेंट को लेकर दर्शकों में अच्छा खासा उत्साह देखने को मिला जो अखिल भारतीय कोल कप फुटबाल प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में लगभग 20 हजार से भी अधिक की संख्या में दर्शकों ने मैच का आनंद उठाया जहा दर्शक दीर्घा पूरी तरह से फूल नजर आई। दर्शकों द्वारा फाइनल मुकाबले में खेले दोनों ही टीमों का लगातार हौसला अफजाई करते देखा गया वही खेल का आखों देखा हाल सुनाने के साथ साथ मंच का संचालन धीरज गुप्ता और उमेश राजवाड़े के द्वारा किया गया।

बिहार सीवान की टीम से सात विदेशी मूल के खिलाड़ी खेल रहे थे जिनमें से चार नाइजीरियन और तीन नेपाल देश के खिलाड़ी फाइनल मैच में खेल रहे थे जो दर्शकों के लिए आकर्षण का केंद्र बने रहे वही नाइजीरियन मूल के खिलाड़ियों के साथ सेल्फी और फोटो लेने के लिए पुरुष महिला सहित बच्चे भी उत्साहित रहे नाइजीरियाई मूल के खिलाड़ियों को दर्शकों ने घेर कर फोटो खींचना प्रारंभ किया जो खत्म नहीं हो रहा था अंतत पुलिस प्रशासन द्वारा लोगों को पीछे हटाकर खिलाड़ियों को सामने लाया गया।

फाइनल मुकाबले में अतिथि के रूप में नगर पंचायत अध्यक्ष बीजू दासन, संजय सिंह, विश्वविजय सिंह तोमर, पूरन राजवाड़े, लाल सिंह पावले, उपास्थित रहे वहीं अयोजन समिती के जीवन सिंह रौतेला, संधारी राजवाड़े आलोक गर्ग, प्रताप सिंह मरावी, विनीत देवांगन, उजीत विश्वकर्मा, आलमसाय, धर्मेंद्र राजवाड़े, रामदेव, उमेश राजवाड़े, प्रकाश राजवाड़े, उदित ठाकुर, प्रकाश, बालसाय, रामदेव, अशोक, उमा, महेश, लोकेश्वर, अजीत, हेमराज, सोनू, ठुनवा, युगेश, राजेश, अजय, पप्पू, देवलाल, अजय, वीरेंद्र, शैलेंद्र, मनीष, नरेंद्र, सुनील, शिवबरत सहित कमेटी केेेे अन्य सदस्य सक्रिय रहे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *